Home Make Money अमेरिका ने की Reliance Jio की तारीफ, कंपनी को दिया 'क्लीन टेलीकॉम'...

अमेरिका ने की Reliance Jio की तारीफ, कंपनी को दिया ‘क्लीन टेलीकॉम’ का ख़िताब


अमेरिका ने Reliance Jio की तारीफ, ‘क्लीन टेलीकॉम’ कंपनी का दिया ख़िताब

अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोंपियो (Mike Pompeo) रिलायंस जियो को “क्लीन टेलीकॉम” कंपनी करार दिया है. पोंपियो ने चीन की कंपनियों के साथ कारोबार से इनकार करने वाली दूरसंचार फर्मों की सराहना की है.

नई दिल्ली. अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोंपियो (Mike Pompeo) रिलायंस जियो को “क्लीन टेलीकॉम” कंपनी करार दिया है. पोंपियो ने चीन की कंपनियों के साथ कारोबार से इनकार करने वाली दूरसंचार फर्मों की सराहना की है. उन्होंने कहा कि फ्रांस की ऑरेंज, भारत की जियो और ऑस्ट्रेलिया की टेल्सट्रा “क्लीन टेलीकॉम” कंपनियां हैं. इन्होंने चीन की कंपनियों के साथ कारोबार करने से इनकार किया है. पोंपियो ने दावा किया कि चीन की IT की दिग्गज कंपनी हुवावे (Huawei) के साथ दुनिया की दूरसंचार कंपनियों का करार धीरे-धीरे कम हो रहे हैं.

ये भी पढ़ें:- 1 जुलाई से बदल जाएंगे आपके बैंक खाते से जुड़े ये 3 नियम, नहीं जानने पर होगा भारी नुकसान
पोंपियो ने बुधवार को कहा कि दुनिया की प्रमुख दूरसंचार कंपनियां जैसे स्पेन की टेलीफोनिका के अलावा ऑरेंज, ओ2, जियो, बेल कनाडा, टेलस और रॉजर्स तथा कई और अब साफ-सुथरी हो रही हैं. ये कंपनियां चीन की कम्युनिस्ट संरचना से अपने संपर्क तोड़ रही हैं. उन्होंने कहा कि ये कंपनियां निगरानी करने वाले देशों की कंपनियों मसलन हुवावेई के साथ अब कारोबार करने से इनकार कर रही हैं. पोम्पियो ने कहा कि अब माहौल चीन की प्रौद्योगिकी कंपनी के खिलाफ होता जा रहा है.

ये भी पढ़ें:- बिज़नेस के लिए मोदी सरकार बिना गारंटी के दे रही है 50000 का लोन, ऐसे करें Apply5G इंफ्रास्ट्रक्चर के डेवलपमेंट का काम Huawei के बजाय एरिक्सन को दे दिया 

उन्होंने कहा कि दुनियाभर के दूरसंचार ऑपरेटरों के साथ Huawei के करार खत्म कर रहे हैं, क्योंकि ये देश अपने 5G नेटवर्क के लिए भरोसेमंद वेंडर की सेवाएं ही लेना चाहते हैं. उन्होंने इसके लिए चेक गणराज्य, पोलैंड, स्वीडन, एस्टोनिया, रोमानिया, डेनमार्क का उदाहरण दिया. पोंपियो ने कहा कि हाल में यूनान ने भी अपने 5G इंफ्रास्ट्रक्चर के डेवलपमेंट का काम Huawei के बजाय एरिक्सन को देने की सहमति दी है.

(डिस्केलमर- न्यूज18 हिंदी, रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का हिस्सा है. नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास ही है.)


First published: June 25, 2020, 3:14 PM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments