Home India News इस साल नहीं होगी हज यात्रा, सभी आवेदनकर्ताओं के पैसे किए जाएंगे...

इस साल नहीं होगी हज यात्रा, सभी आवेदनकर्ताओं के पैसे किए जाएंगे वापस: मुख्तार अब्बास नकवी


इस साल सऊदी अरब ने विदेशी मुसलमानों के लिए हज यात्रा रद्द कर दी है.

केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी (Mukhtar Abbas Naqvi) ने कहा है- हमने निर्णय किया है कि हज 2020 के लिए भारत के हज यात्री इस बार सऊदी अरब नहीं जाएंगे. इसके करीब 2 लाख तीस हजार लोगों द्वारा जमा कराए गए आवेदन शुल्क को सरकार वापस करेगी. इसमें कोई कैंसिलेशन चार्ज नहीं लिया जाएगा.

नई दिल्ली. सऊदी अरब (Saudi Arabia) द्वारा विदेशी मुस्लिमों (Foreigner Muslims) के लिए हज यात्रा कैंसिल किए जाने के बाद भारत सरकार सभी हज आवेदनकर्ताओं के पैसे वापस करेगी. केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी (Mukhtar Abbas Naqvi) ने कहा है- हमने निर्णय किया है कि हज 2020 के लिए भारत के हज यात्री इस बार सऊदी अरब नहीं जाएंगे. इसके करीब 2 लाख तीस हजार लोगों द्वारा जमा कराए गए आवेदन शुल्क को सरकार वापस करेगी. इसमें कोई कैंसिलेशन चार्ज नहीं लिया जाएगा.

इससे पहले सोमवार को लंबे उहापोह के बाद सऊदी सरकार ने ऐलान किया था कि विदेशी लोगों को हज की इजाज नहीं दी जाएगी. हज के लिए सिर्फ स्थानीय लोगों और देश में रह रहे विदेशी लोगों को ही कुछ शर्तों के साथ इजाजत दी जाएगी. इस ऐलान के मुताबिक इंटरनेशनल हज यात्रा इस साल के लिए कैंसिल कर दी गई है.

सिर्फ सऊदी के रहने वाले ही कर पाएंगे हज
सऊदी अरब ने कहा कि इस साल हज को रद्द नहीं किया जाएगा, लेकिन कुछ प्रतिबंधों के साथ स्थानीय लोगों को ही सीमित संख्या में इसमें शामिल होने की अनुमति दी जाएगी. सऊदी अरब सल्तनत ने मंगलवार को कहा कि वह विभिन्न देशों के केवल उन्‍हीं लोगों को हज में शामिल होने की अनुमति देगा जो पहले से ही मुल्‍क में रह रहे हैं. मिली जानकारी के मुताबिक हज यात्रा इस साल जुलाई के अंत में शुरू होगी. आधिकारिक बयान में कहा गया है कि लोगों में कोरोना संक्रमण को रोकने के लिए तमाम सुरक्षात्मक उपाय भी अपनाए जाएंगे.दुनियाभर से 20 लाख हज यात्री हर साल पहुंचते हैं सऊदी अरब

बता दें कि सामान्य दिनों में हज के लिए सऊदी अरब के मक्का में आमतौर पर दुनियाभर से 20 लाख के करीब मुस्लिम जुटते हैं. मक्का में इस्लामिक मामलों के मंत्रालय की शाखा ने शहर की लगभग 1,560 मस्जिदों को सावधानी बरतने के निर्देश जारी किए हैं. आदेश में कहा गया है कि लोगों को मस्जिदों नमाज अदा करने के लिए अपनी चटाई लाने और नमाज के दौरान शारीरिक दूरी का अनुपालन करना जरूरी होगा. मंत्रालय ने शटडाउन के दौरान सभी मस्जिदों को साफ करने की जिम्मेदारी एजेंसियों को सौंपी है. कोरोना संकट के चलते तीन महीने से बंद पवित्र शहर मक्का में लोगों को स्वास्थ्य संबंधी सख्त सावधानियों का पालन करने के निर्देश जारी किए गए हैं.


First published: June 23, 2020, 1:59 PM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments