Home India News एयरलाइन कंपनियों के लिए खुशखबरी! SC ने कहा- अब हवाई जहाज में...

एयरलाइन कंपनियों के लिए खुशखबरी! SC ने कहा- अब हवाई जहाज में बीच की सीट खाली रखने की जरूरत नहीं


खुशखबरी! SC ने कहा- अब हवाई जहाज में बीच की सीट खाली रखने की जरूरत नहीं

एयरलाइंस कंपनियों (Airline Company) के लिए सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने एक बड़ा फैसल सुनाया है. इस फैसले के अंतर्गत अब एयरलाइन कंपनियों को बीच वाली सीट खाली रखने की जरूरत नहीं पड़ेगी.

नई दिल्ली. एयरलाइंस कंपनियों (Airline Company) के लिए सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने एक बड़ा फैसल सुनाया है. इस फैसले के अंतर्गत अब एयरलाइन कंपनियों को बीच वाली सीट खाली रखने की जरूरत नहीं पड़ेगी. सुप्रीम कोर्ट ने बॉम्बे हाई कोर्ट के उस आदेश को बरकरार रखा, जिसमें कहा गया था कि महामारी के मद्देनजर यात्रियों की सुरक्षा और स्वास्थ्य के लिए पर्याप्त सुरक्षा उपाय तैनात किए गए थे. जस्टिस संजय किशन कौल और भूषण गवई की सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने एयर इंडिया और अन्य सभी घरेलू एयरलाइनों के लिए मध्य-सीट पर कब्जा करने की अनुमति देने वाले बॉम्बे HC के आदेश के को खारिज कर दिया है.

पायलट ने 31 मई को घोषित विमानन नियामक DGCA के फैसले के खिलाफ विशेष अवकाश याचिका दायर की थी, जिसमें एयरलाइंस को उड़ान में मध्य सीटें बेचने की अनुमति दी गई थी.

ये भी पढ़ें:- 1 जुलाई से बदल जाएंगे आपके बैंक खाते से जुड़े ये 3 नियम, नहीं जानने पर होगा भारी नुकसान

अभी तक ये था नियम एयरलाइंस को अब फ्लाइट में बीच वाली सीट खाली रखनी होगी . सिविल एविएशन रेगुलेटर DGCA ने यात्रियों की सुरक्षा को लेकर सुप्रीम कोर्ट की टिप्पणियों के बाद ये फैसला लिया है. हालांकि इसमें कुछ रियायतें भी हैं. गाइडलाइन में कहा गया है अगर बीच की सीट खाली रखना बिल्कुल संभव नहीं हो तो यात्रियों को एक wrap around gown दिया जाए. हालांकि एक परिवार के सदस्यों को एक साथ बैठने की इजाजत दी जा सकती है. सभी यात्रियों को एयरलाइंस सुरक्षा किट मुहैया कराएगा. इसमें मास्क, फेस शील्ड, सैनिटाइजर शामिल है.

कौन सी सीट है सबसे ज्यादा सुरक्षित
क्या मिडिल, विंडो या आइल सीट में भी खतरा कम या ज्यादा होता है? ये सवाल भी बार-बार उठ रहा है. इस बारे में फ्लाई हेल्दी रिसर्च टीम (FlyHealthy Research Team) का मानना है कि खिड़की वाली सीट पर बैठे यात्री को संक्रमण का डर सबसे कम रहता है, वहीं आइल पर खतरा सबसे ज्यादा रहता है क्योंकि वे लगातार वॉशरूम आते-जाते लोगों के संपर्क में आते हैं. ये भी कहा जा रहा है कि अगर यात्री विंडो सीट पर है और पूरी यात्रा के दौरान बैठा ही रहा तो उसके संक्रमित होने की आशंका नहीं के बराबर है अगर उसके बगल में कोई मरीज न बैठा हो.


First published: June 26, 2020, 3:14 PM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments