Home Tech News कोरोना की आड़ में बड़े साइबर हमले की साजिश में हैकर्स, केंद्र...

कोरोना की आड़ में बड़े साइबर हमले की साजिश में हैकर्स, केंद्र ने जारी की चेतावनी


कोरोना महामारी की आड़ में साइबर हमलावर बड़ी हमला कर सकते हैं.

भारत में साइबर सुरक्षा की जिम्मेदारी संभाल रही CERT-In ने बताया है कि साइबर हमलावर (Cyber Attack) कोरोना महामारी के बीच बड़ा साइबर अटैक करने की तैयारी में हैं. उन्होंने कहा कि ये हमला आज से ही शुरू हो सकता है.

नई दिल्ली. दुनिया भर में तेजी से फैल रहे कोरोना संक्रमण (coronavirus) के बीच अब साइबर हमलावर (Cyber attacker) बड़े वर्चुअल हमले की साजिश रच रहे हैं. कोरोना (corona) महामारी की आड़ में साइबर हमलावर आपकी निजी और वित्तीय जानकारी में सेंधमारी करने के फिराक में हैं. कोरोना की आड़ में होने वाले साइबर हमले की गंभीरता को देखते हुए इंडियन कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पॉनस टीम (CERT-In) ने ट्वीट करते हुए कहा है कि आज से ई-मेल के जरिए साइबर हमलावर धोखाधड़ी शुरू कर सकते हैं. बताया गया है कि यह संदेहास्पद मेल सरकार के नाम वाली ई-मेल आईडी [email protected] से भेजा जा सकता है.

भारत में साइबर सुरक्षा की जिम्मेदारी संभाल रही CERT-In ने बताया है कि साइबर हमलावर कोरोना महामारी के बीच बड़ा साइबर अटैक करने की तैयारी में हैं. उन्होंने कहा कि ये हमला आज से ही शुरू हो सकता है. ये हमले ई-मेल के जरिए सरकार की ओर से वित्तीय सहायता का काम देखने वाली सरकारी एजेंसियों, विभाग तथा कारोबारी संस्था बनकर किए जा सकते हैं. हमलावर ऐसे स्थानीय अधिकारी बनकर धोखे वाली मेल भेज सकते हैं जिन्हें सरकार द्वारा वित्तपोषित कोविड-19 समर्थित सेवाओं की जिम्मेदारी सौंपी गई है.

फिशिंग हमले की जानकारी देते हुए बताया गया है कि ये असली वेबसाइट की तरह लगती हैं और लोगों को अपनी ओर मेल और टेक्स्ट मैसेज खोलने के लिए आक​र्षित करती हैं. इन वेबसाइट की लिंक में वायरस होता है, जिसे क्लिक करते ही ​यूजर के सिस्टम में मालवेयर आ जाता है, या सिस्टम फ्रीज हो जाता है या फिर आपकी जरूरी जानकारी हैकर के पास पहुंच जाती है.

इसे भी पढ़ें :- वर्क फ्रॉम होम से बढ़ रहा साइबर क्राइम, देश की 80% कंपनियां साइबर सुरक्षा देने में नहीं हैं सक्षम

हैकर्स के पास 20 लाख से ज्यादा ईमेल आईडी हैं 

बता जा रहा है कि इस लिंक को अगर आपने खोला तो हैकर आसानी से आपकी जानकारी चुरा सकते हैं. सरकार की ओर से बताया गया है कि साइबर हमलावरों के पास 20 लाख से ज्यादा लोगों की निजी ईमेल आईडी होने की आशंका है. ठगों के ई-मेल ‘फ्री कोविड-19 टेस्टिंग फॉर ऑल रेजीडेंट्स ऑफ दिल्ली, मुंबई, हैदराबाद, चेन्नई और अहमदाबाद’ की थीम के साथ इसे तैयार किया है. ऐसे में अब कोई भी मेल खोलते समय काफी सावधानी ​बरतने की जरूरत है.


First published: June 21, 2020, 10:51 AM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments