Home Make Money गोल्ड लोन से जुड़ी सारी जानकारी जो आपको पता होनी ही चाहिए

गोल्ड लोन से जुड़ी सारी जानकारी जो आपको पता होनी ही चाहिए


नई दिल्ली. गोल्ड डिपॉजिट पर पैसा उधार लेना भारत में एक बहुत ही आम-सी बात है. उधार लेने वाले उन्हें दिए गए सोने की प्रतिभूति पर पैसा दिया जाता है. मिलने वाले पैसे का उपयोग अपने व्यवसाय के खर्चों, चिकित्सा खर्चों या किसी अन्य वित्तीय जरूरतों के लिए बिना किसी पर निर्भर रहे किया जा सकता है. साथ ही, अपनी जरूरतें अपने दम पर पूरी कर सकते हैं.

हालांकि गोल्ड लोन ज़रूरी धन जुटाने का अपेक्षाकृत सबसे आसान तरीका है फिर भी आपको इसको लेकर काफी शंकाएं हो सकती हैं. इसलिए, यहां आपकी मदद के लिए आम तौर पर पूछे जाने वाले सवाल और विशेषज्ञों द्वारा दिए गए उनके जवाबों की सूची दी गई है.

गोल्ड लोन क्या है?
गोल्ड लोन एक ऐसा सुरक्षित लोन है जो आपको उधार देने वाले (बैंक या एनबीएफसी) को जमानत के तौर पर सोने के गहने गिरवी रखने पर मिल सकता है. उधार देने वाला इसके बदले आपके सोने के बाज़ार मूल्य के आधार पर आपको लोन की राशि देता है. आपकी चुनी गई समयावधि खत्म होने पर आपके लोन की राशि और ब्याज का भुगतान पूरा हो जाने के बाद आपका सोना वापस कर दिया जाता है.आप किस तरह की ज्वैलरी गिरवी रख सकते हैं?

आप सोने के गहने गिरवी रख सकते हैं; सोने की शुद्धता तय करेगी कि आप कितना उधार ले सकते हैं. ध्यान दें कि बैंक लोन के लिए सोने का बिस्किट, सिक्के या सोने-चांदी की ईंट नहीं लेता है.

आप गोल्ड लोन कैसे ले सकते हैं?
जब आप उधार देने वाले के पास सोना ले जाते हैं, तो वह उसकी शुद्धता जाँचते हैं और आपको बताते हैं कि आपको लोन में कितनी राशि उधार में मिल सकती है. आरबीआई दिशानिर्देशों के अनुसार यह राशि सोने के मूल्य का 75% तक हो सकती है. आपको प्रोसेसिंग शुल्क देना होगा जो कि बैंक की नीति के अनुसार होगा.

क्या आपका सोना उधार देने वालों के पास सुरक्षित है?
बिना लाइसेंस वाले बैंक या एनबीएफसी से आप अपने सोने के गहनों को खो जाने या बदले जाने के जोखिम में डाल सकते हैं. इसलिए यह सलाह दी जाती है कि विश्वसनीय उधार लेने वाले से गोल्ड लोन लें जैसे कि HDFC बैंक. और क्योंकि यह वोल्ट में सुरक्षित रहता है, आपको अपने सोने की सुरक्षा की फिक्र करने की ज़रूरत नहीं है. इसलिए अपनी कीमती चीज़ों की सुरक्षा की गारंटी के साथ आप चिंतामुक्त हो सकते हैं.

आपको कौन-से दस्तावेज़ चाहिए होंगे?
एक पासपोर्ट फोटो के साथ आपको अपना कोई भी पहचान प्रमाण (पासपोर्ट, ड्राइवर का लाइसेंस, आधार कार्ड) और पते का प्रमाणपत्र (बिजली और फोन के बिल) जमा करना होगा. अगर आपके पास पैन कार्ड नहीं है, तो आप फॉर्म 60 जमा कर सकते हैं.

गोल्ड लोन कौन ले सकता है?
कोई भी जो 18 साल और उससे ज़्यादा उम्र का हो वह अपना सोना गिरवी रखकर गोल्ड लोन के लिए आवेदन कर सकता है.

लोन पास करने में कितना समय लगता है?
HDFC बैंक जैसा एक भरोसेमंद बैंक, आपके सभी दस्तावेजों के साथ काउंटर पर सिर्फ़ 45 मिनट के अंदर लोन की रकम दे सकता है.

गोल्ड लोन चुकाने के उपलब्ध विकल्प क्या हैं?
HDFC बैंक जैसे उधार देने वाले बैंक कई आसान और सुविधाजनक भुगतान विकल्प देते हैं, जिन्हें आप अपनी पसंद और सुविधा के आधार पर चुन सकते हैं:
>> अग्रिम ब्याज: समयावधि की शुरुआत में पूरा ब्याज चुका दें और आखिर में मूलधन राशि.
>> एक बार में किया जाने वाला भुगतान: इसमें ईएमआई शामिल नहीं होती है; आप लोन की समयावधि के आखिर में एकसाथ मूलधन राशि और ब्याज राशि का भुगतान करते हैं.
>> नियमित ईएमआई: ईएमआई के रूप में पुनः भुगतान करना.
>> ओवरड्राफ्ट सुविधा: यह ऐसी सुविधा है जहाँ आप सिर्फ़ इस्तेमाल की गई राशि पर ब्याज का भुगतान करते हैं

पुनः भुगतान करने की समयावधि क्या है?
गोल्ड लोन का पुनः भुगतान आमतौर पर छह महीने और दो साल के बीच होता है, यह उधार देने वाले पर निर्भर करता है. उदाहरण के लिए HDFC बैंक गोल्ड लोन की समयावधि छह महीने से शुरू होकर 24 महीने तक है. कुछ उधार देने वाले आपके लोन को रिन्यू करके समयावधि को बढ़ाने का ऑफर भी देते हैं. हालांकि, इससे ज़्यादा ब्याज लग सकता है, जिसका मतलब है ज़्यादा भुगतान.

क्या होगा अगर आप गोल्ड लोन का भुगतान नहीं करते हैं?
. इससे पहले कि आप गोल्ड लोन लें, अपनी पुनः भुगतान की क्षमता को समझना बेहद ज़रूरी है. उधार न चुका पाने की स्थिति में उधार देने वाले के पास आपके सोने को नीलाम करके लोन की बकाया राशि वसूल करने का अधिकार होता है.

गोल्ड लोन की ब्याज दर क्या है?
गोल्ड लोन की ब्याज दरें, दूसरे लोन के विकल्पों से लिए जाने वाले ब्याज से कम होती हैं, जैसे कि क्रेडिट कार्ड, म्यूचुअल फंड और पर्सनल लोन से लिए गए लोन आदि. यह ब्याज दर आमतौर पर 11% से 17% के बीच होती है, जो कि उधार देने वाले पर निर्भर करती है. HDFC बैंक किफायती ब्याज दरों पर और बिना किसी छिपे शुल्क के गोल्ड लोन देता है.

आपको बैंक चुनना चाहिए या फिर एनबीएफसी?
आज आप देश भर के एनबीएफसी और बैंकों से गोल्ड लोन ले सकते हैं. जबकि दोनों 75% के मूल्य के अनुपात में लोन देते हैं. यहां एक गाइड है, जो आपके लिए एकदम सही विकल्प हो सकता है.

एनबीएफसी की तुलना में HDFC बैंक जैसे विश्वसनीय बैंकों के गोल्ड लोन की ब्याज दर किफायती होती है. इसके अलावा, HDFC बैंक में तेजी से काम होता है; कम से कम दस्तावेज़ के साथ 45 मिनट में लोन पास हो जाता है और वो भी बिना किसी छुपे हुए शुल्क के. और क्योंकि जाने-माने बैंकों में बेहतर सुरक्षा है, इसलिए एक प्रतिष्ठित बैंक से लोन लेकर आप निश्चिंत हो सकते हैं कि आपके गहने सुरक्षित हैं.

क्या शुल्क शामिल हैं?
कुछ अतिरिक्त शुल्क में प्रोसेसिंग फीस, पुनः भुगतान शुल्क और मूल्यांकन शुल्क शामिल हैं, जो उन शुल्कों में से हैं जो आपको चुकाने होते हैं. कुछ उधार देने वाले बाज़ार में किफायती दिखने के लिए हो सकता है इन लागतों का खुलासा न करें. हालांकि, HDFC जैसे बैंक, छिपे हुए शुल्क के बिना पूरी तरह से पारदर्शी प्रक्रिया के ज़रिए गोल्ड लोन देने के लिए जाने जाते हैं.

अगर आप मौजूदा पैसे की कमी को दूर करने के लिए तुरंत फाइनेंस जुटाना चाहते हैं, तो गोल्ड लोन इसका सबसे आसान तरीका है. सोने के बढ़ते दामों से आपको अपने सोने पर ज़्यादा लोन मिल सकता है. इसलिए, जल्दी और आसानी से अपना गोल्ड लोन पास कराने के लिए यहाँ क्लिक करें.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments