Home India News दिल्ली वालों के लिए बहुत बड़ी राहत, केजरीवाल ने कहा- Corona के...

दिल्ली वालों के लिए बहुत बड़ी राहत, केजरीवाल ने कहा- Corona के खिलाफ केंद्र के साथ मिल कर लड़ेंगे जंग!


केजरीवाल ने कहा है कि कोरोना से मिलकर लड़ेंगे तभी जीतेंगे.

पिछले दिनों दिल्ली में होम आइसोलेशन को लेकर एलजी (LG) और केजरीवाल सरकार (Kejriwal Gov.) में ठन गई थी, हालांकि इसके बाद डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया (Manish Sisodia) ने कहा था कि एलजी को जो भी आशंकाएं थीं उसे सुलझा लिया गया है. सोमवार को सीएम अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने भी इस पर हां भर दी.

नई दिल्ली. पिछले एक सप्ताह से केंद्र सरकार (Central Government) और दिल्ली सरकार (Delhi Gov.) कोरोना वायरस (Coronavirus) के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए साथ आए हैं. दिल्ली में कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए दोनों ने कई निर्णय लिए हैं. गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) ने खुद मोर्चा संभाल रखा है. शाह पिछले 7 दिनों में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) और एलजी से तीन बार मुलाकात कर चुके हैं. इसके अलावा गृह मंत्रालय के दोनों राज्य मंत्री भी कोरोना को लेकर दिल्ली के अलग-अलग इलाकों का दौरा कर रहे हैं. खुद अमित शाह भी पिछले दिनों दिल्ली के एलएनजेपी अस्पताल का दौरा कर अस्पताल की व्यवस्था का जायजा लिया था. केंद्र सरकार के इस कवायद का असर भी अब साफ देखा जा रहा है.

होम आइसोलेशन को लेकर अब कोई विवाद नहीं
बता दें कि पिछले दिनों दिल्ली में होम आइसोलेशन को लेकर एलजी और केजरीवाल सरकार में ठन गई थी, हालांकि इसके बाद डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा था कि एलजी को जो भी आशंकाएं थीं उसे सुलझा लिया गया है. सोमवार को केजरीवाल ने अपनी पीसी में इस पर हां भर दी है. केजरीवाल ने कहा है कि कोरोना से मिलकर लड़ेंगे तभी जीतेंगे. साथ ही सीएम ने भरोसा दिलाया कि जरूरतमंद मरीजों को सिर्फ एक फोन कॉल पर ऑक्‍सीजन की सुविधा मुहैया कराई जाएगी.

गृह मंत्रालय के दोनों राज्य मंत्री भी कोरोना को लेकर दिल्ली के अलग-अलग इलाकों का दौरा कर रहे हैं.

गृह मंत्रालय के दोनों राज्य मंत्री भी कोरोना को लेकर दिल्ली के अलग-अलग इलाकों का दौरा कर रहे हैं.

दिल्ली में हर रोज 18 हजार कोरोना टेस्ट हो रहे हैं
अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि बीते 10 दिनों में 23 हजार नए केस बढ़े हैं, इसमें केवल 900 अतिरिक्त बेड की जरूरत पड़ी. आज दिल्ली में करीब 25 हजार एक्टिव केस हैं. 33 हजार लोग ठीक होकर अपने घर जा चुके हैं. 25 हजार लोगों को अभी भी कोरोना है. अस्पतालों में इस समय 6 हजार के करीब मरीज भर्ती हैं और 12 हजार लोगों का होम आइसोलेशन में इलाज चल रहा है.

अब दिल्ली में प्रतिदिन करीब 18 हजार लोगों की जांच हो रही. पिछले दिनों हमने जांच तीन गुना बढ़ा दी है. बीच में लोगों को जांच कराने में दिक्कत आ रही थी. मैं समझता हूं कि अब लोगों को जांच कराने में दिक्कत नहीं आ रही होगी. पहले प्रतिदिन 5 हजार जांच की जा रही थी. अब प्रतिदिन 18 हजार के करीब जांच की जा रही है.

होम आइसोलेशन को लेकर एलजी के साथ मतभेद दूर कर लिए गए हैं.

होम आइसोलेशन को लेकर एलजी के साथ मतभेद दूर कर लिए गए हैं.

कुछ लैब कर रहे थे धांधली
केजरीवाल ने कहा कि बीच में कुछ लैब ने गड़बड़ी करने की कोशिश की थी, उनके खिलाफ हमने कार्रवाई की. दिल्ली में गलत काम किसी को नहीं करने दिया जा जाएगा. जब हमने उन लैब की जांच की तो पता चला कि कुछ लैब ऐसी थीं, जो केस निगेटिव होने के बाद भी पॉजिटिव रिपोर्ट दे रही थी. अब सभी लैब को सख्ती के साथ कहा गया है कि सही काम करना है और पूरी क्षमता के साथ खूब जांच करनी है. केंद्र सरकार की मदद से दिल्ली में एंटीजन टेस्ट भी शुरू किए गए हैं. एंटीजन टेस्ट रैपिड टेस्ट होता है, जिसमें 15 से 30 मिनट में पता चल जाता है.

ये भी पढ़ें: सुशांत सिंह राजपूत की मौत के बाद लोक गायिका मैथिली ठाकुर का बड़ा बयान, कहा- उनके साथ भी…

सोमवार को अरविंद केजरीवाल की बातों से साफ लगा कि केंद्र के साथ जो मतभेद थे, उसे सुलझा लिया गया है. सोमवार को केजरीवाल ने कहा कि केंद्र सरकार से काफी मदद मिल रही है. दिल्ली सरकार केंद्र सरकार के साथ मिल कर कोरोना पर काबू पाने की कोशिश कर रही है. यह समय राजनीति करने का नहीं है. यह समय आपस में लड़ाई झगड़ा करने का नहीं है. यदि हम आपस में लड़ेंगे, तो कोरोना जीत जाएगा और यदि हम मिल कर लड़ेंगे, तो कोरोना को हरा सकते हैं.


First published: June 22, 2020, 7:03 PM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments