Home Sports News प्रणॉय के आरोपों पर कोच गोपीचंद ने दी सफाई, कहा- 17 दिन...

प्रणॉय के आरोपों पर कोच गोपीचंद ने दी सफाई, कहा- 17 दिन पहले ही भेज दिया था नाम


गोपीचंद बाई के राष्ट्रीय कोच हैं

एच एस प्रणॉय (HS Prannoy) ने अवॉर्ड के लिए नामंकित न होने पर बीएआई (BAI) पर सवाल उठाए थे

नई दिल्ली. भारतीय शटलर एचएस प्रणॉय (HS Prannoy) ने उनका नाम अर्जुन अवॉर्ड के लिए न भेजने पर बैडमिंटन एसोसिएशन पर सवाल उठाए थे. पिछले साल की तरह इस साल भी उन्होंने ट्वीट करके नाराजगी जताई थी. इन सवालों का जवाब देने के लिए अब राष्ट्रीय कोच पुलैला गोपीचंद (Pullela Gopichand) सामने आए हैं. उन्होंने कहा है कि वह प्रणॉय का नाम तीन जून को ही नामंकन के लिए भेज चुके थे. इससे पहले बीएआई ने अर्जुन अवॉर्ड के लिए सात्विकसाइराज रंकी रेड्डी और चिराग शेट्टी (Chirag Shetty) के अलावा समीर वर्मा (Sameer Verma) को नामांकित किया था.

प्रणॉय ने उठाए थे सवाल
प्रणॉय ने नामंकन पर सवाल खड़े किए थे और कहा था कि जिन खिलाड़ियों ने कुछ नहीं जीता उन्हें राष्ट्रीय अवॉर्ड के लिए नामांकित किया गया है और जिन्होंने कॉमनवेल्थ गेम्स तथा एशियन चैंपियनशिन में पदक जीते, उन्हें नजरअंदाज किया गया है . इस पर प्रणॉय ने ट्वीट करते हुए लिखा था, वही पुरानी कहानी. जिन लोगों ने राष्ट्रमंडल खेलों और एशियाई चैम्पियनशिप में पदक जीते उन्हें संघ द्वारा नामांकित नहीं किया गया. जो खिलाड़ी इन टूर्नामेंट्स में था भी नहीं उसे नामांकित किया गया. वाह. यह देश मजाक है.’

श्रीकांत के माफी मांगने के बाद भेजा गया उनका नामसिर्फ प्रणॉय ही नहीं पहले पूर्व वर्ल्ड नंबर-1 किदाम्बी श्रीकांत का नाम भी न भेजने का फैसला किया गया था. प्रणॉय और श्रीकांत ने इसी साल फरवरी में मनीला में आयोजित एशियाई बैडमिंटन चैंपियनशिप में बीएआई के कहने के बाद भी टीम का साथ नहीं दिया था जिसके कारण भारत के पदक जीतने की उम्मीद अधर में पड़ गई थी और इसी के चलते बीएआई ने दोनों को नोटिस दिया था. श्रीकांत ने इमेल लिखकर माफी मांगी थी और कहा था कि वह आगे ऐसा नहीं करेंगे. इसके बाद बीएआई ने उनका नाम राजीव गांधी खेल रत्न के लिए भेजा था.

बीएआई नहीं है प्रणॉय से खुश
बीएआई के महासचिव अजय सिंघानिया ने कहा, ‘प्रणॉय के साथ अनुशासन संबंधी कई मसले हैं. बीएआई अभी तक उन्हें लेकर नजरअंदाज कर रहा था, लेकिन हाल ही में उनके रवैये ने बीएआई को उनके खिलाफ कदम उठाने को मजबूर कर दिया है.’ उन्होंने कहा, उनको कारण बताओ नोटिस भेजा गया है. अगर खिलाड़ी तय समय में अपना जवाब नहीं भेजते हैं तो बीएआई उनके खिलाफ कदम उठाएगा.’


First published: June 21, 2020, 4:16 PM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments