Home India News मुकेश अंबानी के वेतन में 12 साल से नहीं हुई कोई बढ़ोतरी,...

मुकेश अंबानी के वेतन में 12 साल से नहीं हुई कोई बढ़ोतरी, जानें कितनी है उनकी सैलरी


रिलायंस इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड के चेयरमैन व एमडी मुकेश अंबानी की सैलरी में 12 साल से कोई वृद्धि नहीं हुई है. उन्‍होंने कोविड-19 के कारण इस वित्‍त वर्ष में सैलरी नहीं लेने का फैसला किया है.

रिलायंस इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड (RIL) के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) ने कोविड-19 के कारण इस वित्‍त वर्ष में सैलरी नहीं लेने का फैसला किया है. वहीं, कंपनी ने अपने ज्‍यादातर कर्मचारियों के वेतन में 10 से 50 फीसदी तक की कटौती (Salary Cut) का फैसला किया है.

नई दिल्ली. देश के सबसे अमीर उद्योगपति मुकेश अंबानी (Mukesh Ambani) की सैलरी में इस साल किसी तरह की बढ़ोतरी नहीं (No Salary Hike) हुई है. उनकी सालाना सैलरी 12 साल से 15 करोड़ रुपये के स्‍तर पर ही बनी हुई है. रिलायंस इंडस्‍ट्रीज लिमिटेड (RIL) के चेयरमैन और प्रबंध निदेशक (MD) मुकेश अंबानी ने कोरोना संकट (Corona Crisis) के चलते इस वित्‍त वर्ष सैलरी नहीं लेने का फैसला किया है. मुकेश अंबानी ने 2008-09 से सैलरी, अलाउंस और कमीशन मिलाकर अपने मेहनताने (Remuneration) को सालाना 15 करोड़ रुपये पर ही स्थिर रखा हुआ है.

अब तक सालाना 24 करोड़ रुपये से ज्‍यादा छोड़ चुके हैं मुकेश अंबानी
मुकेश अंबानी अब तक सालाना 24 करोड़ रुपये से अधिक छोड़ चुके हैं. वहीं, उनके चचेरे भाई निखिल (Nikhil) और हितल मेसवानी (Hital Meswani) समेत कंपनी के सभी पूर्णकालिक निदेशकों (Directors) के मेहनताने में 31 मार्च 2019 को समाप्‍त वित्त वर्ष के दौरान अच्छी खासी वृद्धि हुई थी. कंपनी ने अपनी 2019-20 के लिए जारी की सालाना रिपोर्ट (Annual Report) में कहा है कि कोविड-19 (COVID-19) महामारी के कारण देश पर व्यापक सामाजिक और आर्थिक असर हुआ है. इसके मद्देनजर मुकेश अंबानी ने अपनी सैलरी छोड़ने का फैसला किया है.

ये भी पढ़ें- भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बने रहने में हुआ सफल, ग्‍लोबल GDP में 8,051 अरब डॉलर की हिस्‍सेदारीज्‍यादातर कर्मियों के वेतन में 10-50 फीसदी कटौती का लिया था फैसला

रिलायंस इंडस्‍ट्रीज के चेयरमैन व एमडी मुकेश अंबानी ने अप्रैल 2020 के अंत में अपनी सैलरी छोड़ने का फैसला किया था. उस समय कंपनी के ज्‍यादातर कर्मचारियों के वेतन में 10 से लेकर 50 फीसदी तक की कटौती करने का फैसला किया गया था. कंपनी के मुताबिक, अन्य एग्जीक्यूटिव डायरेक्टर्स ने भी अपना मेहनताना 50 फीसदी तक छोड़ने का फैसला किया है. बता दें कि वित्त वर्ष 2019-20 के लिए मुकेश अंबानी को मिले मेहनताने में 4.36 करोड़ की सैलरी और अलाउंस शामिल है.

ये भी पढ़ें- CIPLA ने पेश की कोरोना इलाज की सबसे कारगर दवा रेमडेसिवीर, इतनी होगी कीमत

मुकेश अंबानी को 2019-20 में मिला 9.53 करोड़ रुपये कमीशन अमाउंट
वित्त वर्ष 2018-19 में उन्हें 4.45 करोड़ रुपये की सैलरी और अलाउंस मिले थे. मुकेश अंबानी का कमीशन अमाउंट वित्त वर्ष 2019-20 में 9.53 करोड़ रुपये रहा. वहीं perquisites 31 लाख से बढ़कर 40 लाख रुपये हो गए. उन्हें रिटायरमेंट बेनिफिट के रूप में 71 लाख रुपये मिले. कंपनी के मुताबिक, मुकेश अंबानी ने फैसला किया है कि वह तब तक सैलरी नहीं लेंगे, जब तक उनकी कंपनी और बाकी सभी कारोबार फिर से पूरी तरह अपनी क्षमता के साथ काम करना शुरू नहीं कर देते. (डिस्केलमर- न्यूज18 हिंदी, रिलायंस इंडस्ट्रीज की कंपनी नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का हिस्सा है. नेटवर्क18 मीडिया एंड इन्वेस्टमेंट लिमिटेड का स्वामित्व रिलायंस इंडस्ट्रीज के पास ही है.)


First published: June 24, 2020, 8:33 AM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments