Home Sports News मैदान पर वापसी की तैयारी में जुटे श्रीसंत, माइकल जॉर्डन और कोबे...

मैदान पर वापसी की तैयारी में जुटे श्रीसंत, माइकल जॉर्डन और कोबे ब्रायंट के ट्रेनर से ले रहे हैं ‘स्‍पेशल ट्रेनिंग’


2013 में स्‍पॉट फिक्सिंग के शामिल होने के कारण बीसीसीआई ने एम श्रीसंत पर बैन लगा दिया था

एस श्रीसंत ( S Sreesanth ) सुबह पांच बजे ही दुनिया के महान खिलाड़ी माइकल जॉर्डन और कोबे ब्रायंट (Kobe Bryant) के पूर्व ट्रेनर से ट्रेनिंग लेने के लिए उठ जाते हैं

नई दिल्ली. भारतीय तेज गेंदबाज एस श्रीसंत ( S Sreesanth) के लिए सात साल पहले इंडियन प्रीमियर लीग बुरा सपना बन गई थी और अब वह माइकल जॉर्डन के पूर्व ट्रेनर टिम ग्रोवर से ‘मेंटल कंडिशनिंग’ का सबक सीखकर खेल में वापसी की तैयारियों में जुटे हैं. क्रिकेट में लंबे समय बाद वापसी के लिए श्रीसंत कोई भी कोर कसर नहीं छोड़ रहे हैं. वह राष्ट्रीय बास्केटबॉल लीग (एनबीए) के मशहूर ‘फिजिकल एवं माइंड ट्रेनिंग कोच’ टिम ग्रोवर से ऑनलाइन ‘मेंटल कंडिशनिंग’ की क्लास लेने के लिए तड़के पांच बजे उठ जाते हैं. माइकल जॉर्डन और कोबे ब्रायंट भी उनसे ट्रेनिंग ले चुके हैं.

श्रीसंत ने पीटीआई-भाषा से इंटरव्यू में कहा कि ग्रोवर एनबीए में बड़े नामों में से एक हैं. मैं हफ्ते में तीन दिन सुबह साढ़े पांच बजे से साढ़े आठ बजे तक ऑनलाइन सत्र में हिस्सा लेता हूं. इसके बाद मैं अर्नाकुलम में इंडोर नेट में दोपहर डेढ़ बजे से शाम छह बजे तक ट्रेनिंग करता हूं जहां केरल अंडर-23 और रणजी ट्रॉफी के काफी खिलाड़ी जैसे सचिन बेबी होते हैं. आईपीएल 2013 में स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण में कथित रूप से शामिल होने के लिए सात साल का निलंबन झेल चुके भारत के प्रतिभाशाली स्विंग गेंदबाजों में से एक श्रीसंत अब फिर से केरल के लिए सफेद जर्सी पहनने के लिए तैयारी में जुटे हैं लेकिन यह तो उनके लक्ष्य का महज एक हिस्सा है.

यह भी पढ़ें: 

भारत के इस दिग्‍गज क्रिकेटर का मुरीद था कुख्‍यात डाकू, जेल से आई चिट्ठी पढ़ खूब रोया ये गेंदबाजविराट कोहली की टीम के खिलाफ 61 गेंदों में ठोके थे 108 रन, आज लोगों के लिए है ‘मसीहा’
जहां से बाहर किया, वहीं पर वापसी की कोशिश
इस साल रणजी ट्रॉफी (Ranji Trophy) में केरल के लिए खेलने को तैयार श्रीसंत ने कहा कि कुछ टीमों की दिलचस्पी होगी और मैंने हमेशा खुद से कहा है कि मैं फिर से आईपीएल में खेलूंगा. वहीं से मुझे बाहर किया गया और मैं सुनिश्चित करूंगा कि मैं फिर से उसी मंच पर वापसी करूं और मैच में जीत मिले. भारत के लिए 90 अंतरराष्ट्रीय मैचों में 169 विकेट चटकाने वाले 37 वर्षीय श्रीसंत ने कहा कि जिस स्थान से मैं जवाब दे सकता हूं, वह एकमात्र स्थल आईपीएल है, भले ही मैं भारत के लिए खेल लूं. मैं उस भय का सामना करना चाहता हूं और जिंदगी जीने का यही तरीका है. उन्होंने कहा कि मुझे डर था कि जब मैं अगला क्रिकेट मैच खेलूंगा तो लोग क्या कहेंगे. मुझे पूरा भरोसा है कि वो सभी लोग महसूस करेंगे कि मैं किस दर्द से गुजरा हूं और कौन इसके पीछे हैं. श्रीसंत ने कहा कि सब कुछ सामने आ जाएगा. मैं सुनिश्चित करूंगा कि मेरे चयन के लिए मेरा प्रदर्शन मानदंड बने.


First published: June 22, 2020, 6:12 AM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments