Home India News Admission Alert: 12'th की मेरिट के आधार पर इंजीनियरिंग कॉलेजों में मिलेगा...

Admission Alert: 12’th की मेरिट के आधार पर इंजीनियरिंग कॉलेजों में मिलेगा दाखिला


राज्य के इंजीनियरिंग कॉलेजों में बारहवीं कक्षा के अंकों के आधार पर मेरिट (Merit) तेयार की जाएगी

इंजीनियरिंग कॉलेज बांसवाडा में 50 प्रतिशत सीटें राज्य अनुदानित सीटें की जायेंगी ताकि जनजातीय क्षेत्र के छात्रों को प्राइवेट इंजीनियरिंग कॉलेज के मुकाबले में आधी फीस में प्रवेश मिल सके.

जयपुर. राजस्थान में इंजीनियरिंग में दाखिले के लिए 12’th के मार्क्स को मेरिट का आधार बनाया गया है. सीबीएसई बोर्ड (CBSC Board) द्वारा देश में दसवीं और बारहवीं कक्षा के रिजल्ट्स घोषित किए जा चुके हैं. जिसके बाद अब राज्य में इंजीनियरिंग कॉलेजों (Engineering colleges) में दाखिले को लेकर भी तकनीकी शिक्षा विभाग (Department of Technical Education) ने स्पष्ट निर्णय जारी कर दिया है.

मेरिट होगा आधार
राज्य के इंजीनियरिंग कॉलेजों में बारहवीं कक्षा के अंकों के आधार पर मेरिट (Merit) तेयार की जाएगी और इसी के आधार पर छात्रों को प्रवेश (Admission) दिया जाएगा. गुरुवार को तकनीकी शिक्षा मंत्री डॉ. सुभाष गर्ग (Technical Education Minister Dr. Subhash Garg) ने विभागीय बैठक में इस सुझाव को मंजूरी दे दी है. तकनीकी शिक्षा विभाग एडमिशन प्रक्रिया के साथ ही आगामी सत्र की तैयारी में जुट गया है. पढ़ाई को ऑनलाइन (Online) करने और कोरोना महामारी (Coronavirus Pandemic) के दौरान शिक्षा में नवाचार पर जोर दिया जाएगा. तकनीकी शिक्षा विभाग, राजस्थान सरकार के अंतर्गत संचालित समस्त 11 अभियांत्रिकी महाविद्यालयों की बोर्ड ऑफ गर्वनर्स (Board of Governors) की बैठक इन दिनों नियमित रूप से ली जा रही है.

ये भी पढ़ें- UP-Bihar में मानसून के साथ आई आफत, 100 से अधिक लोगों की गई जान, PM Modi ने दुख जताया

जनजातीय क्षेत्र के छात्रों को आधी फीस में मिलेगा प्रवेश
बैठक में निर्णय लिया गया कि इंजीनियरिंग कॉलेज बांसवाडा में 50 प्रतिशत सीटें राज्य अनुदानित सीटें की जायेंगी ताकि जनजातीय क्षेत्र के छात्रों को प्राइवेट इंजीनियरिंग कॉलेज के मुकाबले में आधी फीस में प्रवेश मिल सकेगा. इंजीनियरिंग कॉलेज बांसवाडा को 3-D Printing कोर्स का सेन्टर ऑफ एक्सीलेन्स बनाया जायेगा जिसके द्वारा इंजीनियरिंग और पॉलिटेक्निक के छात्रों को ऑनलाईन प्रक्षिशण निशुल्क उपलब्ध कराया जाएगा जिसके लिए राजकीय खेतान पॉलिटेक्निक महाविद्यालय जयपुर के छात्रों को पायलट प्रोजेक्ट के तहत चुना गया. ये छात्र 3-D Printing के प्रेक्टिकल खेतान पॉलिटेक्निक परिसर स्थित सेन्टर फॉर इलेक्ट्रॉनिक गर्वनेन्स (CEG) में उपलब्ध 3-D Printing Labs में कर सकेगें. COVID-19 के कारण अनिश्चितता के चलते इंजीनियरिंग कॉलेज में प्रवेश 12 वीं कक्षा के परिणाम के आधार पर दिया जाएगा.


First published: June 25, 2020, 11:35 PM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments