Home India News अनलॉक-2 में नाइट कर्फ्यू को लेकर क्या हुआ बदलाव, जानिए

अनलॉक-2 में नाइट कर्फ्यू को लेकर क्या हुआ बदलाव, जानिए


31 जुलाई तक रात्रि 10 बजे से सुबह 5 बजे तक जारी रहेगा नाइट कर्फ्यू (फाइल फोटो)

केंद्र सरकार (Central Government) ने साफ कर दिया कि नाइट कर्फ्यू (Night Curfew) ग्रीन, रेड, ऑरेंज सभी जोन में रहेगा. इस दौरान व्यक्तिगत तौर पर लोगों की गतिविधि पर कड़ाई के साथ रोक होगी.

नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते देश में जारी प्रतिबंधों में राहत देने की श्रंखला में केंद्र सरकार ने अनलॉक-2 (Unlock-2) की गाइडलाइंस जारी की हैं. ये गाइडलाइंस (Guidelines) 31 जुलाई तक प्रभावी होंगी. अनलॉक-2.0 में रात्रि कर्फ्यू (Curfew) लगा रहेगा, इसकी अवधि अब रात्रि 10 बजे से सुबह 5 बजे तक रहेगी. इससे पहले अनलॉक-1 में रात्रि कर्फ्यू की ये अवधि 9 बजे से सुबह 6 बजे तक थी. सरकार ने साफ कर दिया कि नाइट कर्फ्यू ग्रीन, रेड, ऑरेंज सभी जोन में रहेगा. इस दौरान व्यक्तिगत तौर पर लोगों की गतिविधि पर कड़ाई के साथ रोक होगी.

गृह मंत्रालय (Ministry of Home Affairs) की अनलॉक-2.0 (Unlock-2.0) की गाइडलाइंस के मुताबिक, रात्रि कर्फ्यू (Curfew) में आपातकालीन सेवाओं से जुड़े लोगों, आवश्यक गतिविधियों से जुड़े लोगों, कई शिफ्टों में काम करने वाली औद्योगिक ईकाईयों का कामकाज, राष्ट्रीय राजमार्गों से सामान लाने ले जाने वालों, खाली और भरे हुए कार्गो, बस, ट्रेन और हवाई जहाज से यात्रा कर अपने गंतव्य को जाने वाले लोगों को छोड़कर सभी की आवाजाही पर पाबंदी रहेगी. इस बारे में क्षेत्रीय प्रशासन को उचित कानून, जैसे सीआरपीसी की धारा 144 के अंतर्गत आदेश जारी करने चाहिए और इनका कड़ाई से पालन कराना चाहिए.

31 जुलाई तक ये सब रहेंगे बंद
नई गाइडलाइंस के मुताबिक, स्कूल, कॉलेज, शिक्षण संस्थान बंद रहेंगे. ऑनलाइन और डिस्टेंस लर्निंग जारी रहेगी और इसे बढ़ावा दिया जाएगा. सभी तरह की अंतर्राष्ट्रीय हवाई यात्रा पर प्रतिबंध जारी रहेगा. मेट्रे सेवाएं बंद रहेंगी. सिनेमा हॉल, जिम, स्विमिंग पूल, एंटरटेनमेंट पार्क, थियेटर, बार, ऑडिटोरियम, एसेंबली हॉल और ऐसी सभी जगह 31 जुलाई तक बंद रहेंगे. सामाजिक, राजनैतिक, खेल, मनोरंजन, अकादमिक, सांस्कृतिक, धार्मिक आयोजनों पर भी फिलहाल रोक रहेगी.कंटेनमेंट जोन में लॉकडाउन 31 जुलाई तक रहेगा जारी

कंटेनमेंट जोन का निर्धारण जिला प्रशासन, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के दिशानिर्देशों का ध्यान रखते हुए करेगा. जिसका मकसद प्रभावशाली तरीके से संक्रमण की कड़ी को तोड़ना होगा. इन कंटनेमेंट जोन के बारे में संबंधित जिला कलेक्टर और राज्य या केंद्रशासित प्रदेश की वेबसाइट पर जानकारी दी जायेगी और इस जानकारी को स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय के साथ साझा किया जायेगा.
कंटेनमेंट जोन में सिर्फ जरूरी कामों की अनुमति होगी. कंटेनमेंट जोन के अंदर और बाहर लोगों की आवाजाही को रोकने के लिए कड़े कदम उठाए जाएंगे. सिर्फ मेडिकल इमरजेंसी के केस और जरूरी सामानों की आपूर्ति को ही मंजूरी दी जाएगी.

First published: June 29, 2020, 11:33 PM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments