Home Make Money अब आरोग्‍य संजीवनी पॉलिसी में मिलेगा 5 लाख रुपये से ज्‍यादा का...

अब आरोग्‍य संजीवनी पॉलिसी में मिलेगा 5 लाख रुपये से ज्‍यादा का कवर! IRDA ने फिर से लॉन्‍च करने का दिया निर्देश


इरडा ने आरोग्‍य संजीवनी योजना के तहत बीमा राशि बढ़ाकर 5 रुपये से ज्‍यादा करने का निर्देश दिया है.

भारतीय बीमा नियामक व विकास प्राधिकरण (IRDAI) ने बीमा कंपनियों को 5 लाख रुपये से ज्‍यादा की आरोग्‍य संजीवनी पॉलिसी (Aarogya Sanjeevni Policy) बेचने की मंजूरी दे दी है. नियामक ने इस स्‍वास्‍थ्‍य बीमा पॉलिसी (Health Insurance) को चुनने की न्यूनतम उम्र 18 साल और अधिकतम उम्र 65 साल तय की है.

नई दिल्‍ली. भारतीय बीमा नियामक व विकास प्राधिकरण (IRDAI) ने फैसला किया है कि आरोग्‍य संजीवनी पॉलिसी (Aarogya Sanjeevni Policy) के तहत अब 5 लाख रुपये से ज्‍यादा का कवर (Health Cover) भी मिलेगा. अब तक इसमें अधिकतम बीमा राशि (Sum-Insured) 5 लाख रुपये थी. इसके तहत साधारण और स्वास्थ्य बीमा कंपनियों से बुनियादी स्वास्थ्य जरूरतों के लिए न्यूनतम एक लाख और अधिकतम 5 लाख रुपये वाला प्रोडक्ट अनिवार्य तौर पर पेश करने को कहा गया था. अब इरडा ने 7 जुलाई 2020 को जारी सर्कुलर में बीमा कंपनियों (Insurance Companies) को कम से कम 50,000 रुपये और 5 लाख रुपये से ज्‍यादा बीमा राशि वाली पॉलिसी बेचने की मंजूरी दी है. बता दें कि अभी आरोग्‍य संजीवनी पॉलिसी बेसिक हेल्‍थ कवर के साथ आती है. इरडा ने बीमा कंपनियों को इस पॉलिसी को बदलाव के साथ फिर से पेश करने को कहा है.

अब इस पॉलिसी के तहत मिलेंगे ये सुविधाएं
आरोग्‍य संजीवनी पॉलिसी के तहत अस्पताल में भर्ती होने का खर्च, कम सीमा के साथ मोतियाबिंद जैसे खर्च, दांतों का इलाज, बीमारी या दुर्घटना के कारण जरूरी प्‍लास्टिक सर्जरी, सभी प्रकार के डेकेयर इलाज, एंबुलेंस खर्च शामिल हैं. आयुष के तहत इलाज के लिए अस्पताल में भर्ती के खर्च, अस्पताल में भर्ती होने से 30 दिन पहले तक का खर्च और अस्पताल से छुट्‌टी के बाद 60 दिन तक के खर्च को भी कवर किया जाएगा. इरडा ने कहा कि कोई क्‍लेम नहीं किए जाने पर हर साल के लिए बीमा राशि (बोनस को छोड़कर) को 5 फीसदी बढ़ाया जाएगा. बिना ब्रेक के पॉलिसी का नवीनीकरण होगा.

ये भी पढ़ें- रेलवे ने रचा इतिहास! 100 किमी/घंटा की रफ्तार से दौड़ाई मालगाड़ी, सालभर में दोगुनी हुई औसत रफ्तारपरिवार को भी किया जा सकता है शामिल

इस हेल्‍थ पॉलिसी को फैमिली फ्लोटर बेस पर भी पेश किया जाएगा. इसमें पति-पत्नी, बच्चे, माता-पिता सभी को शामिल किया जा सकेगा. इसे गंभीर बीमारी कवर या लाभ आधारित कवर के साथ जोड़ा नहीं जाएगा. कोई भी 18-65 साल का व्‍यक्ति ये पॉलिसी खरीद सकता है. पॉलिसी खरीदने वालों को आयकर की धारा-80D के तहत टैक्‍स छूट भी मिलेगी. प्रीमियम भुगताना हर महीने, तिमाही, छमाही या सालाना आधार पर कर सकते हैं. इरडा के मुताबिक, ग्राहकों की सुविधा के लिए साधारण और स्वास्थ्य बीमा कंपनियों को एक स्‍टैंडर्ड पॉलिसी पेश करने का निर्देश दिया गया है.

ये भी पढ़ें- कार लोन पर भी मिल सकती है इनकम टैक्‍स में छूट! दिखाने होंगे ये डॉक्‍युमेंट्स

बीमाधारकों को मिलेगी पोर्टेबिलिटी की सुविधा
आरोग्‍य संजीवनी पॉलिसी की शुरुआत 1अप्रैल 2020 को हुई थी. यह पॉलिसीधारकों की बुनियादी चिकित्‍सा जरूरतों को कवर करती है. इरडा के निर्देशों के अनुसार, आरोग्‍य पॉलिसी में बीमाधारकों को पोर्टेबिलिटी की सुविधा मिलती है. यह हेल्‍थ इंश्‍योरेंस प्‍लान एक साल की अवधि के साथ आता है. हालांकि, इस पॉलिसी को जिंदगीभर रिन्‍यू कराया जा सकेगा. इस हेल्‍थ इंश्‍योरेंस प्‍लान के तहत देशभर में प्रीमियम समान रखा गया है. वार्षिक प्रीमियम पेमेंट मोड के लिए ग्रेस पीरियड के तौर पर 30 दिन की अवधि होगी. पेमेंट के अन्‍य मोड के लिए ग्रेस पीरियड के तौर पर 15 दिन ही मिलेंगे.


Published by:
Amrit Chandra


First published:
July 7, 2020, 8:41 PM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments