Home India News इलेक्ट्रीशियन और परचून की दुकान चलाने वालों के घर से निकले Inter-High...

इलेक्ट्रीशियन और परचून की दुकान चलाने वालों के घर से निकले Inter-High School के टॉपर


टॉपर्स अनुराग मलिक और रिया जैन.

परीक्षा टॉप करने के लिए दोनों छात्रों ने बड़े कॉलेज (College) का मुंह भी नहीं देखा. बड़ौत के गांव में बने श्री राम इंटर कॉलेज से पढ़ाई कर 96 फीसद से ज़्यादा नंबर लाकर पूरे सूबे में टॉप किया.

नई दिल्ली. कामयाबी किसी की मोहताज नहीं होती है. लेकिन यह मेहनत करने वाले के कदम जरूर चूमती है. यह जरूरी नहीं कि वो कदम किसी बड़े घर से निकलने वाले के हों. इसे साबित किया है यूपी बोर्ड (UP Board) की हाईस्कूल (High School) और इंटर (Intermediate) की परीक्षा टॉप (Exam top) करने वाले बागपत (Baghpat) केे छात्र रिया जैन और अनुराग ने.

रिया के पिता परचून की दुकान चलाते हैं कि अनुराग के पिता इलेक्ट्रीशियन हैं. अपनी-अपनी परीक्षा टॉप करने के लिए दोनों छात्रों ने बड़े कॉलेज (College) का मुंह भी नहीं देखा. बड़ौत के गांव में बने श्री राम इंटर कॉलेज से पढ़ाई कर 96 फीसद से ज़्यादा नंबर लाकर पूरे सूबे में टॉप किया. बड़ौत से ही बीते वर्ष इंटर टॉप करने वाले तनु के पिता पेशे से किसान हैं.

इलेक्ट्रीशियन का बेटा है इंटर का टॉपर अनुगरा

अनुराग मलिक के पिता पेशे से इलेक्ट्रीशियन हैं. बड़ौत में ही उनकी एक छोटी सी दुकान है. इसी दुकान में बिजली के तार, स्विच, बल्ब और दूसरी चीज़े बेचते हैं. बिजली का सामान ठीक भी करते हैं. अनुराग तीन भाई-बहिन हैं. अनुराग सबसे बड़ा है. बाकी के दो छोटे हैं और वो भी पढ़ रहे हैं. दुकान छोटी है तो क्या हुआ, जैसे भी जितनी भी चलती है अनुराग के पिता प्रमोद मलिक बच्चों की पढ़ाई में कोई अड़चन नहीं आने देते हैं. खुद अनुराग की पढ़ाई में भी कई तरह की अड़चन आईं, लेकिन पिता प्रमोद ने अनुराग को कभी इसका अहसास नहीं होने दिया और हंसी-हंसी उन सब को दूर कर दिया.ये भी पढ़ें
दिलचस्प: 99 साल का है यूपी बोर्ड, दुनिया में इसलिए सबसे खास,जानिए 5 बड़ी बातें
UP Board Result 2020: इस कॉलेज के छात्रों ने फिर किया इंटर-हाईस्कूल में टॉप, पिछले साल भी यहीं से मिली थी 12वीं की टॉपर

अनुराग को इंटर में 97 फीसद नंबर मिले हैं. हाईस्कूल में भी 92 फीसद नंबर पाकर बागपत टॉप किया था. वहीं इंटरमीडिएट के टॉपर अनुराग मलिक को 500 में से 485 अंक यानी 97 प्रतिशत अंक प्राप्त हुए. अनुराग ने कहा है कि परीक्षा में बेहतर नंबर लाने के लिए सालोंभर लगातार एक टाइम टेबल के साथ पढ़ाई करना जरूरी है. कब क्या पढ़ना है, कौन सा कोर्स कब खत्म कर लेना है, इसी प्लानिंग के साथ तैयारी करनी चाहिए.

परचून की दुकान के मालिक है टॉपर रिया जैन के पिता

रिया जैन को हाईस्कूल की परीक्षा में 96.67 फीसद नंबर मिले हैं. रिया के पिता भारत भूषण बड़ौत के अहरिया गांव में ही एक छोटी सी परचून की दुकान चलाते हैं. बच्चों को स्कूल में किसी की छींटाकशी का सामना नहीं करना पड़े इसलिए कुछ बातों पर पर्दा डालते हुए रिया के घर वाले बताते हैं कि रिया बच्चों में दूसरे नंबर की है. बड़ी बहिन भी पढ़ती है. लेकिन टॉप करने का कारनामा घर में रिया ने करके दिखाया है. दुकान में दो-तीन सौ रुपये की जो भी बिक्री हो जाती है उसी से घर चलता है.

लेकिन सबसे पहले बच्चों की पढ़ाई का खर्च निकाला जाता है. न्यूज़ 18 हिंदी से बात करते हुए रिया ने बताया कि वे प्रतिदिन 14-15 घंटे की पढ़ाई करती थीं. वो मैथ्स के साथ आगे की पढ़ाई करना चाहती हैं. मैथ्स में उसकी रूचि है और वह इसे ही अपना करियर बनाएगी. रिया जैन को 600 में से 580 अंक मिले हैं.


First published: June 27, 2020, 2:36 PM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments