Home India News कोरोना की दवा Remdesivir की सप्लाई शुरू, इन 5 राज्यों को मिली...

कोरोना की दवा Remdesivir की सप्लाई शुरू, इन 5 राज्यों को मिली पहली खेप


Remdesivir की सप्लाई 5 राज्यों को भेजी गई (फाइल फोटो)

कोरोना वायरस (Coronavirus) की जेनेरिक दवा कोविफोर (COVIFOR) अगली खेप लखनऊ, भोपाल, इंदौर, कोलकाता, पटना, रांची, भुवनेश्वर, विजयवाड़ा, कोचीन, त्रिवेंद्रम और गोवा में अगले एक हफ्ते में भेजा जाएगा.

नई दिल्ली. देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) की जेनेरिक दवा की सप्लाई शुरू हो गई है.  हैदराबाद की ड्रगमेकर कंपनी हेटरो (Hetero) ने रेमडेसिवीर (Remdesivir) का जेनेरिक वर्जन कोविफोर (COVIFOR) दवा पांच राज्यों को भेज दी है. कंपनी ने 20,000 वायल की पहली खेप हैदराबाद, दिल्ली, गुजरात, तमिलनाडु और महाराष्ट्र भेजी है. हेटरो के मुताबिक, कोविफोर का 100 मिलीग्राम का वायल 5,400 रुपये में मिलेगा.

इसके बाद कोविफोर (COVIFOR) की अगली खेप लखनऊ, भोपाल, इंदौर, कोलकाता, पटना, रांची, भुवनेश्वर, विजयवाड़ा, कोचीन, त्रिवेंद्रम और गोवा में अगले एक हफ्ते में भेजी जाएगी. हेटेरो ने अगले एक हफ्ते में एक लाख वायल तैयार करने का लक्ष्य रखा है. बता दें कि कोरोना एक मरीज को 6 वियाल की जरूरत पड़ती है, जिसमें एक Vial की कीमत 5400 रुपये है.

दरअसल, ड्रग कंट्रोलर जनरल ऑफ इंडिया (DCGI) ने  सिप्‍ला और हेटेरो लैब्‍स (Hetero Labs) को रेमडेसिवीर बनाने की अनुमति दी है. इसका इस्तेमाल इमरजेंसी के दौरान किया जाता है. Hetero हेल्थकेयर केमेनेजिंग डायरेक्टर एम श्रीनिवास रेड्डी ने कहा, ‘भारत में कोविफोर को पेश करना हमारे लिए एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है. कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों की वजह से इस समय चिकित्सा ढांचे पर काफी दबाव है.’

साल के अंत तक 2 करोड़ मरीजों को मिल जाएगी दवाअमेरिका, भारत और दक्षिण कोरिया में संक्रमण के गंभीर मरीजों के इलाज में रेमडेसिवीर के इस्‍तेमाल की अनुमति दे दी गई है. वहीं, जापान में इसके पूरे इस्‍तेमाल की मंजूरी है. हालांकि, सिप्‍ला ने अभी तक ये साफ नहीं किया है कि CIPREMI कब से इलाज के लिए बाजार में उपलब्‍ध हो जाएगी. अमेरिका में अभी तक रेमडेसिवीर की कीमत तय नहीं की जा सकी है. गिलीड ने सोमवार को कहा था कि साल के अंत तक 2 करोड़ से ज्‍यादा कोरोना मरीजों को रेमडेसिवीर उपलब्‍ध करा दी जाएगी. रेमडेसिवीर का ट्रायल अमेरिका, यूरोप और एशिया के 60 सेंटर्स में 1063 मरीजों पर किया गया था. ट्रायल में दवा ने बेहतर रिकवरी में मदद की. रेमडेसिवीर दिए जाने वाले मरीजों में मृत्यु दर 7.1 फीसदी रहा.


First published: June 25, 2020, 5:09 PM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments