Home India News कोरोना वायरस लॉकडाउन से रेलवे की आमदनी में आई गिरावट, अब खर्चों...

कोरोना वायरस लॉकडाउन से रेलवे की आमदनी में आई गिरावट, अब खर्चों में कटौती के लिए बनाया नया प्लान


नई दिल्ली. कोरोना वायरस (Coronavirus Pandemic) की वजह से भारतीय रेलवे (India Railway) की आमदनी में गिरावट आई है. पछले साल के अप्रैल मई महीनों के मुकाबले रेलवे की कमाई (Indian Railway Earning) इस साल अप्रैल-मई में 58 फीसदी की गिरावट आई है. ऐसे में रेलवे के फाइनेंशियल कमिश्नर ने खर्चों को कम करने के सुझाव सभी ज़ोन के GM जारी किए है. इसमें डीज़ल इंजन को बेचने और फ्यूल बचाने जैसे अहम सुुझाव दिए गए है.

रेलवे ऐसे करेगा खर्चों में कटौती-

रेलवे के फाइनेंशियल कमिश्नर ने कहा है कि फ्यूल बचाने पर सभी जोन को ध्यान देना होगा. नॉन ट्रैक्शन एनर्जी की खपत 25% तक कम करें. आपको बता दें कि Traction energy से ट्रेन चलती है.

सालाना जीएम इंसपेक्शन में सुनिश्चित करें की कम से कम स्टाफ हो ताकि खर्चा ज़्यादा न हो.  किसी फाइल भेजने के लिए स्टाफ को भेजना बंद करें.E office, E daak, का प्रयोग करें. इससे स्टेशनरी , कार्टेज का इस्तेमाल 50% कम होगा. उपयोग में लाई जाने वाली गाड़ियों के खर्चे कम किए जाएं.

फर्नीचर, अतिरिक्त व्हीकल , कंप्यूटर, प्रिंटर का procurement न करें.  उद्घाटन और सेरीमोनियल कार्यक्रम जहां तक मुमकिन हो ऑनलाइन पर ज़ोर दें.  इसके अलावा कैश अवार्ड सीमित करें. एं0टरटेनमेंट, पब्लिसिटी, ट्रेवल और मीटिंग्स को कम किया जाए.

ये भी पढ़ें : एफडी में किया है निवेश तो जान लें ये बात, कभी भी बज सकती है खतरे की ये घंटी!

 स्टाफ को रिव्यू करें और उनको कम करने की संभावना तलाशें- सेफ्टी से जुड़े नए पदों को छोड़कर कोई भी दूसरे पद न बनाए जाएं. पिछले 2 साल में बनाए गए नए पदों (posts) को रिव्यू करें और अगर उन नए पदों पर भर्तियां अगर न की गई हों तो उस पर रोक लगाई जाए.

OT और TA (Travelling Allowance) को 50% और दूसरे Allowances को 33-50% तक कम करें. कोई नया procurement को लेकर भी खासा ध्यान देना जरूरी. 31 साल से पुराने डीजल locos को बेचें.

ये भी पढ़ें : 27 जून को शुरू होगा अमेजन का स्मॉल बिजनेस डे, छोटे कारोबारियों को होगा फायदा

वित्त वर्ष 2018-19 के फाइनेंशियल ईयर से पहले के सभी कॉन्ट्रैक्ट्स इनको 2 साल से कम अवधि में काम पूरा करना था उसको खत्म करें. जब तक फंड न हो तब तक कोई प्रपोजल या टेंडर को अनुमति न दें.
ज़ोन में होने वाले काम में कटौती करें. सिर्फ ज़रूरी आइटम को ही तरजीह दें न की Fancy items को.





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments