Home India News चीन से तनाव के बीच रूस की यात्रा पर रक्षामंत्री, सुखोई, टी-90...

चीन से तनाव के बीच रूस की यात्रा पर रक्षामंत्री, सुखोई, टी-90 टैंक के उपकरणों की सप्लाई की करेंगे मांग


रक्षा मंत्री तीन दिवसीय रूस यात्रा के लिए रवाना हो गए हैं,

Rajnath Singh visit to Russia: रक्षा मंत्री तीन दिवसीय रूस यात्रा के लिए रवाना हो गए हैं, जहां वह शीर्ष रूसी राजनेताओं (Russian political leadership) से मुलाकात करेंगे और देशों के बीच रक्षा और रणनीतिक साझेदारी पर चर्चा होने की उम्मीद है.

नई दिल्‍ली. भारत-चीन तनाव (India-china Dispute) के बीच रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह (Rajnath Singh) तीन दिवसीय रूस (Russia) दौरे के लिए रवाना हो गए हैं. सरकारी सूत्रों ने न्‍यूज एजेंसी एएनआई को बताया कि रक्षा मंत्री रूस से सुखोई-30 एमकेआई, मिग-29, टी-90 टैंक और किलो क्लास सबमरीन के लिए इक्विपमेंट की अर्जेंट सप्लाई की मांग करेंगे. पहले इन उपकरणों की सप्‍लाई समुद्री रास्‍ते से होनी थी, लेकिन कोरोना वायरस महामारी के कारण यह पिछले कुछ समय से अटकी हुई है. राजनाथ सिंह अब रूस से कहेंगे कि वह समुद्री रास्‍ते की बजाय हवाई मार्ग के जरिए जल्‍द से जल्‍द इन सामानों की सप्‍लाई करे.

रक्षा मंत्री तीन दिवसीय रूस यात्रा के लिए रवाना हो गए हैं, जहां वह शीर्ष रूसी राजनेताओं से मुलाकात करेंगे और देशों के बीच रक्षा और रणनीतिक साझेदारी पर चर्चा होने की उम्मीद है. लद्दाख की स्थित‍ि और चीन के अतिक्रमण पर भी बातचीत हो सकती है. साथ ही भारत एस-400 ट्रायम्फ एंटी मिसाइल सिस्टम की डिलीवरी में तेजी लाने के लिए रूस से कह सकता है. भारत और चीन के बीच हिंसक झड़प के 6 दिन बाद राजनाथ सिंह का यह दौरा हो रहा है.

तीन दिवसीय रूस यात्रा पर रवाना हुए रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह
रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह तीन दिवसीय रूस यात्रा पर सोमवार को रवाना हुए. इस दौरान वह रूस के उच्च सैन्य अधिकारियों के साथ वार्ता करेंगे और द्वितीय विश्व युद्ध में नाजी जर्मनी पर सोवियत विजय की 75वीं वर्षगांठ के उपलक्ष्य में आयोजित भव्य सैन्य परेड में शामिल होंगे.कोविड-19 महामारी के मद्देनजर चार महीने तक यात्रा पर लगे प्रतिबंध के बाद किसी वरिष्ठ केंद्रीय मंत्री की यह पहली विदेश यात्रा है. रक्षा मंत्री की रूस यात्रा ऐसे समय हो रही है जब लद्दाख में चीन के साथ भारत का गतिरोध बरकरार है.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने किया ट्वीट
मास्को रवाना होने से पहले सिंह ने ट्वीट किया, ‘तीन दिवसीय यात्रा पर मास्को रवाना हो रहा हूं. यह यात्रा भारत-रूस रक्षा और सामरिक साझेदारी को मजबूत करने के लिए बातचीत का अवसर देगी. मुझे मास्को में 75वीं विजय दिवस परेड में भी शामिल होना है.’

अधिकारियों ने कहा कि चीन के साथ सीमा पर तनाव होने के बावजूद सिंह ने रूस की यात्रा स्थगित नहीं की क्योंकि रूस के साथ भारत के दशकों पुराने सैन्य संबंध हैं. उन्होंने कहा कि रक्षा मंत्री रूस के उच्च अधिकारियों के साथ दोनों देशों के बीच सैन्य सहयोग बढ़ाने को लेकर कई बैठकें करेंगे. भारतीय सशस्त्र सेनाओं के तीनो अंगों का सम्मिलित 75 सदस्यीय एक दस्ता परेड में हिस्सा लेने पहले ही मास्को पहुंच चुका है.


First published: June 22, 2020, 5:18 PM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments