Home India News रांची में 300 साल पुरानी भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा पर Corona...

रांची में 300 साल पुरानी भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा पर Corona का ग्रहण


रांची में इस बार नहीं निकलेगी भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा.

रांची के भगवान जगन्नाथ मंदिर के मुख्य पुजारी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) की गाइडलाइन के अनुसार इस वर्ष रथ मेले का आयोजन नहीं होगा. जो भी अनुष्ठान होंगे वो मंदिर के अंदर ही संपन्न किए जाएंगे.

रांची. जगन्नाथ मेले और रथ यात्रा (Jagannath Rath Yatra) का आयोजन इस वर्ष नहीं होगा. राजधानी रांची के एचईसी में 23 जून को होनेवाली ऐतिहासिक रथ यात्रा पर ग्रहण लग चुका है. सुप्रीम कोर्ट के निर्देश का असर रांची (Ranchi) के जगन्नाथ रथ मेले पर भी पड़ा है, जिसे लेकर लोगों में मायूसी है. रांची के जगन्नाथपुर में साल 1691 से निकल रही रथ यात्रा इस बार नहीं निकलेगी. 1691 से धुर्वा के जगन्नाथपुर मंदिर परिसर से निकलने वाली इस रथ यात्रा के दौरान भव्य मेला भी लगता है. लेकिन कोरोना वायरस के संक्रमण की वजह से इस बार न यात्रा निकलेगी और न ही मेले का आयोजन होगा. हालांकि मंदिर में अनुष्ठान किया जाएगा.

मंदिर के मुख्य पुजारी ब्रजभूषण नाथ मिश्र ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट की गाइडलाइन के अनुसार इस वर्ष रथ मेले का आयोजन नहीं होगा. जो भी अनुष्ठान होंगे वो मंदिर के अंदर ही संपन्न किए जाएंगे. इसमें कोई भी श्रद्धालु शामिल नहीं होंगे. वहीं उन्होंने कहा कि रथ यात्रा का आयोजन भले नहीं होगा, लेकिन अन्य अनुष्ठान जरूर होंगे. 22 जून को भगवान जगन्नाथ का नेत्र दान होगा. आपको बता दें कि कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम को लेकर ओडिशा के पुरी स्थित भगवान जगन्नाथ की रथ यात्रा को लेकर भी कोर्ट ने विचार करने का निर्देश दिया है. वहीं, देश के अलग-अलग इलाकों में निकलने वाली यात्रा को लेकर असमंजस की स्थिति है.

ये भी पढ़ें- झारखंड में 1900 पार हुई संक्रमितों की संख्या, 1608 सिर्फ प्रवासी मजदूर

जगन्नाथपुर रथ यात्रा मेले का आयोजन न होने से खेल, तमाशे, झूले और मेले में लगनेवाली दुकानों के आनंद से भी लोग महरूम होंगे. वहीं वर्ष में यही एक मौक़ा होता है कि भगवान खुद भक्तों को दर्शन देने के लिए मंदिर से बाहर आते हैं. लेकिन कोरोना संकट की वजह से इस साल यह मौका नहीं मिलेगा. जगन्नाथपुर न्यास समिति के सचिव शिवेश सिंह का कहना है कि मेले का आयोजन न होने से आसपास के लोगों को आर्थिक नुकसान होगा. क्योंकि इस मेले की वजह से लोगों को अच्छी खासी कमाई हो जाती थी.


First published: June 21, 2020, 2:29 PM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments