Home India News COVID-19 Effect: मानसून में इंदौर के पिकनिक स्पॉट्स पर नहीं जा सकेंगे...

COVID-19 Effect: मानसून में इंदौर के पिकनिक स्पॉट्स पर नहीं जा सकेंगे लोग, प्रशासन ने लगाई रोक


मानसून के दिनों में इंदौर के पिकनिक स्पॉट सैलानियों से गुलजार रहते थे (फ़ाइल तस्वीर)

कोरोना का हॉटस्पॉट (COVID-19 Hotspot) बने इंदौर (Indore) के लोग मानसून में अपनी इलाके के खूबसूरत पिकनिट स्पॉट (Picnic Spot) की सैर नहीं कर पाएंगे. जिला प्रशासन ने महू के आसपास के पिकनिक स्पॉट्स पर लोगों के जाने पर लगाया प्रतिबंध.

इंदौर. कोरोना वायरस (Coronavirus) के संक्रमण के चलते अभी भी इंदौर रेड जोन (Red Zone) में बना हुआ है. संक्रमण के खतरे को देखते हुए जिले के पिकनिक स्पॉटों (Picnic spots) पर जाने पर भी प्रतिबंध लगा दिया गया है. दरअसल मानसून शुरु होते ही इन पिकनिक स्थलों पर सैर-सपाटे के लिए लोगों की भीड़ उमड़ने लगी है इसी के मद्देनजर ये रोक लगाई गई है क्योंकि पर्यटकों की भीड़ के चलते सोशल डिस्टेंसिंग (social distancing) का पालन नहीं हो पाएगा जिससे कोरोना का खतरा और बढ़ जाएगा.

थाना प्रभारियों को दिए निर्देश
इंदौर जिले के महू एसडीएम अभिलाष मिश्रा ने बताया कि महू में कोरोनावायरस का संक्रमण काफी ज्यादा है और मानसून के दौरान संक्रमण और कई गुना बढ़ने की संभावना जताई जा रही है. ऐसे में ज्यादा एहतियात बरतने की आवश्यकता है. उन्होंने आगे कहा कि ऐसा देखने में आ रहा है कि बारिश शुरू होने के साथ ही महू के आसपास के पिकनिक स्पॉटों पर सैर-सपाटे के लिए जाने वाले लोगों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है. पर्यटन स्थल (Tourist Spot) घूमने जाने वाले लोग सोशल गैदरिंग (Social gathering) कर रहे हैं, जिस कारण लोगों का आपस में कान्टेक्ट बढ़ने से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं हो पा रहा है, इससे संक्रमण बढ़ने की संभावना बनी हुई हैं इसलिए प्रतिबंध के आदेश का कड़ाई से पालन कराने के लिए संबधित क्षेत्र के थाना प्रभारियों को अधिकृत किया गया है. सभी थाना प्रभारी धारा 144 का कड़ाई से पालन कराएंगे और साथ ही संबधित ग्राम पंचायत भी अपने स्तर पर आदेश का पालन कराना सुनिश्चित करेंगी.

ये भी पढ़ें- शिवराज मंत्रिमंडल का जल्द होगा विस्तार, दिग्गजों के बीच मंथन के बाद नाम तय!

इन स्थानों पर लगा घूमने पर प्रतिबंध
इंदौर जिले कि जिन पिकनिक स्पॉटों पर लोगों के जाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया है उनमें पातालपानी, वाचू पाइंट, गिद्ध खोह, जामगेट, शीतलामाता फॉल, जोगी भडक, कालाकुंड, चोरल डेम, चोरल नदी, कजलीगढ़ का किला, बामनिया कुंड, मेहन्दी कुंड शामिल हैं.


First published: June 24, 2020, 10:52 PM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments