Home Make Money FACT Check-क्या चीन के हैकर्स ने किया भारत की इस सरकारी वेबसाइट...

FACT Check-क्या चीन के हैकर्स ने किया भारत की इस सरकारी वेबसाइट को हैक, सरकार ने दी ये जानकारी


DPIIT की साईट के हैंकिंग मामले में फैक्टचेक

भारतीय सरकारी विभाग की डिपार्टमेंट ऑफ प्रमोशन ऑफ इंडस्ट्री एंड इंटरनल ट्रेड (DPIIT) की साइट के हैकिंग के मामले में सरकार ने पीआईबी फैक्ट चेक में बताया कि इसे हैक नहीं किया गया था, उस पर काम चल रहा था.

नई दिल्ली. भारत-चीन सीमा विवाद के चलते दोनों देशों के बीच लगातार तनाव बढ़ता जा रहा है. इसी बीच चाइनीज हैकर्स द्वारा कई भारतीय कंपनियों को हैक करने की बात भी तेजी फ़ैल रही है. बताया जा रहा था कि एक प्रमुख सरकारी सरकारी विभाग की वेबसाइट DPIIT को चाइनीज हैकर्स ने हैक कर लिया है. डिपार्टमेंट ऑफ प्रमोशन ऑफ इंडस्ट्री एंड इंटरनल ट्रेड (DPIIT) की साईट के हैंकिंग मामले में सरकार ने जवाब दिया है. पीआईबी फैक्ट चेक ने साइट हैक होने के दावे को गलत बताया है. दरअसल मीडिया रिपोर्ट में इस बात किया था कि @DIPPGOI वेबसाइट को हैक कर लिया गया है.

पीआईबी फैक्ट चेक (PIBFactcheck) ने अपने ट्वीटर पर ट्वीट कर इस बात की जानकारी दी. पीआईबी ने ट्वीट किया, ‘ये सच नहीं है, साइट अंडर मैंटेनेनस थी और एनआईसी क्लाउड पर चल रही है. साइट को हैक करने की बात पूरी तरह से गलत और निराधार है और इस तरह की आशंका भी गलत है.’

चीनी आयात के लिए नीतिगत उपायों पर काम कर रहा
उद्योग और आंतरिक व्यापार को बढ़ावा देने वाला विभाग (DPIIT) कम गुणवत्ता वाले चीनी आयात के लिए नीतिगत उपायों पर काम कर रहा है, जिसमें घड़ी, सिगरेट जैसे आइटम भी शामिल हैं. DPIIT ने चीन में बनने वाले निम्न-गुणवत्ता वाले आयातों की एक लिस्ट तैयार की है जिसमें सिगरेट, तंबाकू, पेंट और वार्निश, प्रिंटिंग स्याही, मेकअप का सामान, शैम्पू, हेयर डाई, कांच के आइटम, घड़ी, इंजेक्शन की शीशी शामिल है. DPIIT और राजस्व विभाग ने पीएमओ में हुई बैठक में कम से कम 300 वस्तुओं पर सीमा शुल्क बढ़ाने पर चर्चा की थी.

ये भी पढ़ें : चीन को भारत दे सकता है एक बड़ा झटका! अब इस प्रोडक्ट के इम्पोर्ट पर लगाम लगेगी

वेबसाइट को खोलने पर आ रहा था सन्देश

पिछले हफ्ते भारतीय कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पांस टीम (CERT-In) द्वारा एक फ़िशिंग हमले की चेतावनी दी गई थी. उसके बाद ही इस सरकारी वेबसाइट पर दिक्कतें आने लगी थी. डिपार्टमेंट ऑफ प्रमोशन ऑफ इंडस्ट्री एंड इंटरनल ट्रेड (DPIIT) वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय के तहत काम करने वाले आंतरिक व्यापार से जुड़े मुद्दों को भी देखता है. जब इसे खोला जा रहा था तो साइट ओपन होने के बजाय उस पर एक सर्वर एरर आ रहा था. जिससे ये अंदाजा लगाया जाने लगा कि साइट को हैक कर लिया गया है.

वाणिज्य मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी बताया था कि उनकी वेबसाइट वास्तव में हैक कर ली गई थी. हालांकि, कोई भी अधिकारी रिकॉर्ड के हानि होने की कोई पुष्टि नहीं है. अधिकारियों ने हैक की गई वेबसाइट का स्क्रीनशॉट भी अपने पास सुरक्षित रख लिया था.


First published: June 23, 2020, 8:06 AM IST





Source link

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments